अफगानिस्तान में पुल-ए-चरखी जेल की गाड़ी को निशाना बनाते हुए हमला किया गया जिसमें 7 लोगों की मौत हो गई है, जानकारी के मुताबिक गाड़ी में अधिकतर महिलाएं मौजूद थीं.

अफगानिस्तान में पुल-ए-चरखी जेल की गाड़ी को निशाना बनाते हुए हमला किया गया जिसमें 7 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई अन्य घायल हैं. जानकारी के मुताबिक गाड़ी में अधिकतर महिलाएं मौजूद थीं. यह हमला बुधवार सुबह करीब 7:30 बजे हुआ. अब तक किसी भी आतंकी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है.

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नजीब दानिश ने बताया कि हमलावर ने बुधवार तड़के जेलकर्मियों को लेकर जा रही एक बस को निशाना बनाया. विशाल पुल-ए-चरखी जेल में कई तालिबानियों सहित सैकड़ों कैदी बंद हैं.

जेल के एक अधिकारी अबदुल्ला करीमी के मुताबिक, हमला जेल के गेट के नजदीक हुआ जिसमें कई आगंतुक प्रवेश से पहले सख्त सुरक्षा जांच से गुजरने का इंतजार कर रहे थे.

इससे पहले काबुल में सोमवार को अफगान निर्वाचन कार्यालय को निशाना बनाकर आत्मघाती हमला किया गया था जिसमें एक पुलिस अधिकारी की मौत हो गई थी, जबकि पांच लोग घायल हुए थे. हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली थी.

पहले भी हुआ था हमला

इससे पहले चुनाव के दौरान 20 अक्टूबर को भी काबुल में आत्मघाती हमला हुआ था जिसमें करीब 15 लोगों की मौत हुई थी.

कंधार के गवर्नर, पुलिस चीफ और इंटेलीजेंस चीफ की हत्या

इससे पहले अफगानिस्तान के कंधार में बड़ा आतंकी हमला हुआ था जिसमें कंधार के गवर्नर, पुलिस चीफ और इंटेलीजेंस चीफ की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. बताया गया कि गवर्नर के सुरक्षा गार्डों ने ही इनकी हत्या की.